J.N.U. Matter

जय भारत, जय हिन्द दोस्तों।  आज मैं आपके सामने कुछ बात रखने से पहले कुछ Nos और कुछ Figures लेकर आना चाहता हूँ। Delhi में एक University है जिस के अंदर Students B.A. Honers M.A., M.Sc. करते हैं तो उनकी साल की Tuition Fees रुपए 216, Sports Fees रुपए 16, Literary And Cultural Fees रुपए 16, Library रुपए 16, Medical Fees रुपए 9, Medical Booklets रुपए 12 है। कुल मिला कर बहुत सारी Fees जो कि, पूरे एक साल के इस Curriculum को रुपए 400 के आसपास बनती है।

Similarly इसी University M.Phil P.H.D., Pre P.H.D. Fees रुपए 240, Annual Tuition Fees रुपए 20 है, Sport Fees रुपए 16, Literary And Cultural Fees रुपए 16 है। मतलब पूरे साल की Fees रुपए 400-500 के लगभग है। आपको ये जानकर हैरानी होगी कि, ये जवाहर लाल नेहरु यूनिवर्सिटी ही है और इस में पढ़ने वाले स्टूडेंट्स को 3 लाख रूपए सालाना की सब्सिडी मिलती है। यानि की एक साल में सरकार इस यूनिवर्सिटी को रुपए 245 करोड़ आसपास की सब्सिडी देती है, वो Subsidy जो मेरे और आपके टैक्स से आती है, हमारी Hard Earned Money से आती है और इस University में कुछ Students, इस देश को वापस क्या देते हैं? जिन Students को साल में 3 लाख रुपए की Subsidy मिलती हैं,

वो देश को वापस देते हैं लाल सलाम,
वो देश को वापस देते हैं India Go Back,
वो देश को वापस देते हैं कश्मीर की आज़ादी,
वो देश को वापस देते हैं जंग रहेगी जंग रहेगीहिन्दुस्तान की बर्बादी तक जंग रहेगी
वो आज़ादी मांग रहे हैं कश्मीर की , वो आज़ादी मांग रहे हैं बंगाल की, वो आज़ादी मांग रहे हैं केरल की, वो आज़ादी मांग रहे हैं पंजाब की और पता नहीं किन-किन चीजों की।

ये वही Students हैं जो मेरे, आपके खून-पसीने से कमाए हुए पैसों से Direct-Indirect Tax के द्वारा दिए हुए पैसों से सुख सुविधा ले रहे हैं और हम लोग उम्मीद करते हैं की JNU में की हुई पढ़ाई देश के लिए कुछ काम आएगी बजाए इसके, कुछ Students जो कि Anti National बन चुके हैं। इन लोगों को आज़ादी चाहिए।

मैं उन लोगों से पूछना चाहता हूँ, सबसे पहले देश का Passport वापस करो। राशन कार्ड वापस करो। इस देश से मिलने वाली Subsidy वापस करो, जो तुम्हें एक साल के लिए इतनी सस्ती Quality Education Provide कराती है। और तो और तुम Rent के नाम पर रुपए 20 प्रति महीने में JNU के Hostel में रहते हो।

ये वही JNU University है जिसके आसपास का Area वेद सराए, कालू सराए, मुनरिका जहाँ पर रुपए पांच-पांच, सात-सात हज़ार में 6 By 6 की कुठरिया मिलती हैं रहने के नाम पर। ये वही जगह है जहाँ पर पीने के लिए पानी नहीं मिलता, जहाँ पर एक-एक फ्लोर पर 20 - 20 Flats पर एक Toilet होती है।

दिल्ली - भारत के Heart में बैठ कर आप Anti National Slogans बोल रहे रहे हो। क्या लगता है अभिव्यक्ति की आज़ादी की आड़ में आप कुछ भी बोल सकते हो? अभिव्यक्ति की आज़ादी, Freedom Of Speech का मतलब यह नहीं होता कि, आप अपने देश को गालियां निकालना शुरू कर दें।
आप किस चीज़ की आज़ादी चाहते है आप अफ़ज़ल गुरु को शहीद बनाने पर तुले हुए हैं।

आप हनमन थप्पा को भूल गए जिन से आप चंद किलो मीटर की दुरी पैर बैठे हुए थे! अरे शर्म करो वो हज़ार Feet की ऊंचाई पर खड़ा था, बर्फ दीवार के नीचे दबा था पूरे 6 दिन ज़िन्दगी और मौत से लड़ता रहा सिर्फ इसलिए की वो वापस आये और वापस आशा दे कि, मैं जीना चाहता हूँ, इस Country के लिए जब वो वापस आया तो उसने देखा कि मेरे देशवासी मेरे बगल में खड़े हो कर मेरे ही देश को गालियां निकाल रहे हैं। उस देश के टुकड़े कर रहे हैं जिस देश के लिए मैं और मेरे साथी कुर्बान हो चले! तो इन सब के बाद उस बन्दे के अंदर जीने की क्या इच्छा रह गई होगी।

कुछ Students वहां खड़े हो कर लाल सलाम लाल सलाम चिल्ला रहे थे। मैं उन सभी लाल सलाम चिल्लाते हुए Students से ये पूछना चाहता हूँ कि, क्या होता है ये लाल सलाम। Communism और Castism की निशानी होता है ये लाल सलाम। आखिर क्या दिया है Communism और Castism ने इस देश को? क्या मिला? कुछ नहीं। Communism और Castism World की Failed Psychology है। यह हमारी Country के अंदर एक Failed State को Represent करती है। इसी Communism और Castism चक्कर में West Bangal की क्या दशा है ये आप और हम अच्छी तरह जानते हैं। Kolkata तो इस देश का Commerce Hub था, आज वो City एक रुकी हुयी City बन कर रह गई है। अगर यह सब देख कर भी कुछ नहीं सीख पाए तो तुम क्या सीखोगे? तुम कौन से लाल सलाम की बात कर रहे हो कौन सा लाल सलाम ठोकना है तुम्हें और कहाँ पर? इतनी पढ़ाई-लिखाई का फायदा क्या हुआ?

यहाँ पर गलती इन Anti Social Elements की नहीं है यहाँ पर गलती है हमारे Tolerance की। जब हम चुप रहते हैं तभी कोई हम पर अत्याचार करता है। जब कोई हद से ज़्यादा सहन करता है तो उसे Tolerance नहीं कायरता समझा जाता है।

ये बिकी हुई Media से हमें कोई सच दिखाने की उम्मीद नहीं है आप इसे अधिक से अधिक Share कीजिए ताकि हमारी और आप की आवाज़ हर तरफ फ़ैल सके। जय भारत, जय हिन्द!

Previous
Next Post »
loading...