Speak In Hindi


Why people can't speak in Hindi everywhere...


मैंने बहुत से लोगों को देखा है कि, जब बातचीत के समय कोई अच्छी English बोलता है तो दूसरे व्यक्ति अपना Confidence Loose कर जाते हैं। जो बात वो बोलना चाहते हैं बोल ही नहीं पाते क्योंकि उनको लगता है कि, हिन्दी में उनकी बात को कोई नहीं सुनेगा और हिन्दी बोलने पर उनको कोई कम पढ़ा-लिखा समझेगा...? क्यों ऐसा ही है ना...?

मैं ऐसे लोगों से बस इतना पूछना चाहता हूँ कि,
आपको ऐसा कब से लगने लगा और क्यों लगने लगा?
क्या हिन्दी को कोई Importance नहीं देता?
या आप हिन्दी बोलने में झिझकते हैं?

कभी कभी ऐसा लगता है कि, लोग हिन्दी को Low Language और English को High Language समझने लगे हैं।
इसलिए English Medium School बढ़ गए हैं और सभी अपने आने वाली Generation को English के Environment में ढालना चाहते हैं ताकि कोई भविष्य में उसका मज़ाक ना बना सके। मैं English बोलने वालों के खिलाफ नहीं हूँ पर हिन्दी को बढ़ावा ना देने वालों के खिलाफ जरूर हूँ।

हमें हिन्दी में भी सब कुछ बोलने की आजादी है। जो बात हम English में  बोल सकते हैं उसी बात को हम हिन्दी में भी तो बोल सकते हैं।

इसी को एक छोटे से Incident के द्वारा समझें।
एक बार स्वामी विवेकानंद जी की Speech को सुन कर कुछ अंग्रेज़ उनसे मिलने आए ।
अंग्रेजों ने उनका Good Morning से सम्बोधन किया और स्वामी जी ने उसका जवाब नमस्ते में दिया।
अंग्रेजों को लगा शायद स्वामी जी को English नहीं आती इसलिए उन्होंने अबकी बार उनसे नमस्ते कहा!
और इस बार स्वामी जी ने उनका जवाब Good Morning में दिया।
वहाँ खड़े उनके एक शिष्य से पूछा कि, आपने ऐसा क्यों किया...?
तो स्वामी विवेकानंद जी ने बड़ा ही अच्छा जवाब दिया...
उन्होंने कहा, “जब अंग्रेजों ने अपनी मात्रभाषा का सम्मान किया तब मैंने भी अपनी मात्रभाषा का सम्मान किया और जब उन्होंने हमारी मात्रभाषा का सम्मान किया तो मैंने भी उनकी मात्रभाषा का सम्मान किया।"

शायद ये जान कर आप लोगों को हैरानी होगी कि Hindi is the second largest speaking language in the world मतलब दुनिया में दूसरे नम्बर पर सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा Hindi ही है।
आज हम सब को A, B, C, D तो पूरी आती है पर अ, आ, इ, ई पूरा नहीं आता। हिन्दी बोलने पर शर्म नहीं आनी चाहिए बल्कि गर्व होना चाहिए कि, आपको हिन्दी आती है क्योंकि Hindi सीखना English सीखने से बहुत कठिन है। अगर आपको अच्छी Hindi आती है तो आपका भी सम्मान होगा जो अच्छी English बोलने वाले का होता है।

और आप Hindi बोलने में शर्म महसूस करते हैं तो Confidence बढ़ाइए।
मैं डंके की चोट पर कह सकता हूँ कि, आप कहीं भी बेझिझक Hindi बोल सकते हैं क्योंकि, जो बात Hindi में है, वो और कहाँ...?

आशा करते हैं कि, आपको हमारे लेख जरूर पसंद आएँगे, लेख पसंद आने पर Comment में अपनी प्रतिक्रिया दें।

धन्यवाद ।।

Previous
Next Post »

3 comments

Write comments
loading...