Autobiography of APJ Abdul Kalaam in Hindi

अब्दुल कलाम जी की जीवनी हिन्दी में...

नमस्ते! क्या आने वाली पीढ़ी को हम कह पाएँगे कि, हमने Abdul Kalaam को देखा है? बिल्कुल! 
कलाम साहब के बहाने कहानियाँ, सपने, उड़ान, उम्मीद जो भी कह लीजिए, मगर इनकी कामयाबियों के पीछे क्या दस्तान थी? संघर्ष की, सादगी की, गज़ब के समर्पण की। 21st Century में अगर किसी सच्चे नेता का नाम लिया जाएगा तो APJ Abdul Kalaam का नाम सबसे पहले लिया जाएगा। उनका जीवन ‘सादा जीवन-उच्च विचार’ का जीता जागता Example है। 

वे भारत के 11th President थे। उनका जन्म 15 October, 1931 रामेश्वरम, तमिलनाडु में तथा मृत्यु 15 जुलाई, 2015 को शिलॉन्ग, मेघालय में 83 वर्ष की आयु में हुई। आज डॉ. कलाम साहब हमारे बीच नहीं हैं मगर उनके संघर्ष के किस्से इंसानी नस्ल के लिए हमेशा एक मिसाल बने रहेंगे। आज आपको Missile Man और People’s President कहे जाने वाले कलाम साहब जीवन के कुछ पहलू आपको बताते हैं।

उड़ान, अगर एक शब्द में कहा जाए तो यही उनकी ज़िंदगी का फलसफा था। Science से लेकर सपनों तक का सफर तय किया। शुरुआत हुई थी जब वे केवल 5 वर्ष के थे और उड़ान थी चिड़ियों की। आसमान में चिड़ियों को उड़ते देखना उन्हें खूब भाता था, फिर क्या था एक दिन Class में Teacher से पूछ बैठे, “आखिर यह चिड़िया उड़ती कैसे है?” सवाल बहुत Simple था पर इसका जवाब कोई नहीं दे पाया। और वो Teacher थे Subhramanyam Iyer. उनके सवाल का जवाब समझाने के लिए पूरी Class के बच्चों को समुद्र किनारे ले गए और उड़ते हुए पक्षियों को दिखाकर उड़ने की पूरी Technique बताई। नन्हे कलाम को उस दिन केवल सवाल का जवाब ही नहीं मिला, साथ ही उनकी आँखों को एक सपना भी मिल गया।

लेकिन नन्हे कलाम का सपना सच कैसे होता, हालात तो ऐसे थे की पतंग भी उड़ाने को बड़ी मुश्किल से नसीब होती। परिवार में 7 भाई बहनों में पिता जैनालाबुद्दीन के बहुत लाडले थे, पर परिवार की हालत कुछ ऐसी थी कि 2 वक्त की रोटी की चिंता पीछा ही नहीं छोड़ती थी। छोटे कलाम को रोटियाँ बड़ी पसंद थी जबकि उस जगह चावल की फसल अधिक होती है, फिर भी माँ कैसे भी करके 2 रोटियों की जुगाड़ उनके लिए कर ही देती थी आखिर माँ थी ना। एक दिन माँ ने अपने हिस्से की रोटी उन्हें परोस दी, भाई से जब इस बात का पता चल तो वे बड़े भावुक हुए।

10-12 साल के होते-होते उन्हें अपनी जिम्मेदारियों का एहसास हो चला था। पिता पेशे से नाविक थे, आने जाने वाले यात्रियों को नाव किराये पर देते थे। एक दिन चक्रवात में वो बची-खुची नाव भी टूट गई। पढ़ाई जारी रखने के लिए और घर की आमदनी के लिए वे अख़बार भी बेचते थे। इसी बीच वो अख़बार भी पढ़ जाते। पढ़ाई में इतना Interest था कि, सुबह 4 बजे उठ कर Maths Teacher के घर पढ़ने जाते थे और Teacher भी उसको ही Free पढ़ाता था जो सुबह 4 बजे उठ कर नहा धो कर पढ़ने आता था।

पढ़ाई में मेरा Interest देखते हुए माँ ने पढ़ने के लिए एक Lamp ले लिया जिससे अब रात 11 बजे तक पढ़ाई की जा सकती थी। पढ़-लिख कर Air Force Join करना चाहते थे, ख्वाइश थी कि, Pilot बने लेकिन बन नहीं सके, क्योंकि पद 8 थे और कलाम का 9वां नंबर आया। सपना तो पूरा नहीं हुआ मगर उस Failure के बाद भी उड़ान का जोश कम नहीं हुआ।

वे हमेशा कहा करते थे, सपने वो नहीं होते जो सोते हुए देखे जाते है, सपने तो वो होते हैं जो सोने ही नहीं देते।
Madras Institute of Technology में तीन रातों तक जाग कर अपनी Thesis पूरी की ताकि Scholarship मिल सके। Degree मिली तो Space Science की दिशा में आगे बढ़ गए। देश के पहला Space Launch Vehicle, 5000 Km की दूरी तक मार करने वाली अग्नि उनकी जीती जागती मिसाल है।

शुरुआत होती है 1960 से, जब युवा सपनों को आकार देने के लिए Abdul Kalaam दिल्ली आए। रक्षा मंत्रालय के तकनीकी विकास में Senior Scientist का कार्य सँभाला और सेना के लिए छोटा Helicopter भी Design किया। कुछ समय बाद केवल 2 Suitcase के साथ भारत के राष्ट्रपति बने। राष्ट्रपति भवन में अपनी छाप भी छोड़ी जैसे-
• 75 साल पुराने बर्तनों को सम्भाल कर Museum बनवाया।
• अशोक Hall को नए तरीके से Design किया।
• बच्चों के दिए Gifts ओर Drawings को सम्भाल कर अलग Museum बनवाया.
• मुगल बाग़ की सैर करने वालों के लिए पानी और Snacks का प्रबंध करवाया।
ये सभी बदलाव आज भी दिखाई देते हैं।

Kalaam साहब के जीवन का एक पहलू और था राष्ट्रपति भवन के पशु-पक्षियों से लगाव।
सेना के एक घोड़े को एक आँख से दिखना बंद हो गया तो उसका Operation करवाया, एक मोर का पैर टूट गया तो उसका पैर सही करवाया।

यूँ तो उनका खुद कुछ भी नहीं था ना तो घर, ना गाड़ी, ना ज़मीन बस 2 suitcase के साथ आए थे और 2 Suitcase के साथ चल दिए। उनका कहना था कि अब मेरा ख्याल तो सरकार रखेगी ही तो मैं अब किसी Property का क्या करूँगा और इसी के साथ उन्होंने अपनी बची हुई Property भी गरीबों को दान कर कर दी।
2007 में कार्यकाल समाप्त होने के बाद खुद को बच्चों और युवाओं के लिए समर्पित कर दिया और मौत भी आई तो उन्हीं युवाओं के बीच वे अपनी दास्तान कहते-कहते सो गए।

We really salute you.

Some quotes said by dr. APJ Abdul Kalaam...


• सपने वो नहीं होते जो सोते हुए देखे जाते है, सपने तो वो होते हैं जो सोने ही नहीं देते।
• Dream is not those which comes while sleeping, Dreams are those which doesn’t let you sleep.

• इंतजार करने वालों को केवल उतना ही मिलता है जितना कोशिश करने वाले छोड़ दिया करते है।
• The person who waits for miracle gets, What Doers left.

• एक जीत के बात आपको रुकना नहीं चाहिए क्योंकि अगर दूसरी में आप असफल होते हैं तो बहुत से लोग ये कहने बैठे हैं कि आपकी पहली जीत केवल आपका भाग्य था।
• Don’t take rest after first victory because if you fail in second, more people are waiting to say that your first victory was just luck.

• सभी पक्षी वर्षा ऋतु में रहने का बसेरा खोजते हैं, पर गरुड़ वर्षा से बचने के लिए बादलों के ऊपर उड़ान भरता है। समस्या सबकी एक जैसी हैं पर आपका नजरिया ही उन्हें बदलता है।
• All Birds find shelter during a rain. But hawk flies above the Clouds. Problems are common, but attitude makes the difference.

• इंसान को सफलता का उत्साह मनाने के लिए जीवन में कठिनाई हमेशा चाहिए। 
• Man needs difficulties in life because they are necessary to enjoy the success.

• यदि आप सूर्य के जैसे चमकना चाहते हैं तो पहले आपको सूर्य की तरह तपना भी होगा।
• If you want to shine like a sun. First you need to burn like a sun.

• हम सभी के पास एक जैसा हुनर नहीं होता, पर हम सबके पास हुनर को निखारने का एक जैसा अवसर जरूर होता है।
• All of us do not have equal talent. But, all of us have an equal opportunity to develop our talents.

• जिस प्रकार हम अपने हस्तक्षेप के बिना असफल नहीं हो सकते उसी प्रकार हम अपने हस्तक्षेप के बिना सफल भी नहीं हो सकते।
• Without your involvement you can't succeed. With your involvement you can't fail.

• किसी को हराना तो सरल हो सकता है पर किसी को जीतना बहुत जटिल है।
• It is very easy to defeat someone, but it is very hard to win someone.

• सपने देखते रहिए, क्योंकि सपने देखने से विचार बदलते हैं और विचारों से कार्य बदलते हैं और कार्यों से परिणाम बदलते हैं।
• Always keep dreaming because Dreams transform into thoughts and thoughts change action and your action changes results.

• एक अच्छे इंसान के लिए धर्म एक मित्रता बढ़ाने का मार्ग है पर कुछ बुरे लोग इसे लड़ने का हथियार बना लेते हैं।
• For great men, religion is a way of making friends but small people make it a fighting tool.

• दर्द सफलता की पहली निशानी है।
• Suffering is the essence of success.


लेख अच्छा लगने पर Share और अपनी प्रतिक्रिया Comment के रूप में अवश्य दें जिससे हम और भी अच्छे लेख आप तक ला सकें। यदि आपके पास भी कोई लेख, कहानी, किस्सा हो तो आप हमें भेज सकते हैं, पसंद आने पर लेख को आपके नाम के साथ भन्नाट.कॉम पर पोस्ट किया जाएगा, अपने सुझाव आप Wordparking@Gmail.Com पर भेजें, साथ ही twitter पर फॉलो करें Twitter@bhannaat.



Previous
Next Post »
loading...