Never Let Your Dream Die in Hindi

अपने लक्ष्य को कभी मरने ना दें...

एक बार भगवान ने 10 लोगों के साथ Experiment किया। उसने 10 लोगों को अलग-अलग गोल दिए। भगवान बोले तू Doctor बनेगा, तू Engineer बनेगा, तू Soldier बनेगा, तू CEO बनेगा, वगेरा वगेरा...

भगवान उनको Goal दे कर थोड़े Time बाद सबको छोटे-छोटे Problems देना शुरू करते हैं। जिस वजह से इंसान छोटी-छोटी बातों पर Frustrate हो जाता है, Irritate हो जाता है, गुस्सा आ जाता है। जब ऐसी Situation होती है, तो 10 में से 4 लोग Easily Give Up कर देते हैं। वे सोचते हैं छोड़ो यार इतना आसान नहीं है अपने Dreams को Achieve करना, Lets Get Back To The Normal Life. फिर वे सभी Normal Life जीना Start कर देते हैं पर बाकी के 6 लोग अभी भी डटे हुए हैं।

अब भगवान सोचते हैं जो ये आखिरी 6 बचे हुए हैं इनकी Problems को मैं थोड़ा और बढ़ा देता हूँ। अब इन Problems में उनका कोई साथ नहीं देता, घर से भी Support नहीं मिलता। वो जितनी बार नई चीज Try करते हैं उतनी बार Fail हो जाते हैं, जिस किसी से भी Help Expect करते हैं, वो लोग उनको ना बोल देते हैं। जब इस Level की Problems आती है तो Stress का Level भी बढ़ जाता है तो 6 में से 3 लोग Give Up कर देते हैं। फिर से Normal Life जीने लग जाते हैं। अब बचे आखिरी 3 लोग।

अब भगवान सोचते हैं, अब इन Last 3 लोगों की Problems को और बढ़ा देता हूँ। अब Problems का Impact 3 गुना Powerful हो जाता है। इस Level में लोगों को घर से भी बाहर निकाल दिया जाता है, कोई दोस्त नहीं होता, कोई साथी नहीं होता, खाने को खाना भी नहीं मिलता, रहने को घर भी नहीं। अब इस Level की Problems में 3 में से 2 लोग Give Up कर देते हैं। वो 2 लोग भी यही सोचते हैं चल यार छोड़, Normal Life जी लेते हैं। अब बचा केवल 1 व्यक्ति।

अब भगवान फिर से Problems को बढ़ा देते हैं, इंसान हर Time Stress में जीने लगता है, Suicide करने के विचार भी मन में आने लगते हैं। ऐसी Condition होने पर भी Last वाला व्यक्ति Give Up नहीं करता। वो भगवान को कहता है कि, आपको जितनी भी Problems देनी है दे दो, मेरा जो Desire है ज़िंदगी में कुछ करने का, कुछ बनने का वो कभी टूटने वाला नहीं है।

जिस दिन भगवान को ऐसा लगता है कि, उसका जो Desire है कुछ बनने का, वो मेरी Problems से काफी गुना बड़ा है, मेरी Problems बहुत छोटी हैं। उस दिन भगवान Give Up कर देते हैं और उसे वो दे देते हैं जिसे वो Deserve करता है।


कभी आपका भी मन अगर कभी Give Up करने को करे, तो एक बार ये जरूर सोच लेना कि, आपने उस काम को Start ही क्यों किया था। ज़िंदगी में दो ही तरह के लोग Give Up कर देते हैं एक वो जिन्होंने कभी कुछ नया Try ही नहीं किया और दूसरा वो जिसने अपना सफर बीच रास्ते में ही छोड़ दिया, जो सफर के अंत तक जाता है वो कभी हार ही नहीं सकता।

वैसे भी अपने सुना ही होगा मंजिल तो मिल ही जाएगी भटक कर ही सही, गुमराह तो वो हैं जो घर से ही नहीं निकले।

लेख अच्छा लगने पर Share करें और अपनी प्रतिक्रिया Comment के रूप में अवश्य दें जिससे हम और भी अच्छे लेख आप तक ला सकें। यदि आपके पास भी कोई लेख, कहानी, किस्सा हो तो आप हमें भेज सकते हैं, पसंद आने पर लेख को आपके नाम के साथ भन्नाट। कॉम पर पोस्ट किया जाएगा, अपने सुझाव आप wordparking@Gmail.com पर भेजें, साथ ही Twitter पर फॉलो करें Twitter@Bhannaat.

Previous
Next Post »
loading...