How to save yourself from Over Thinking in Hindi?

Over thinking से कैसे बचें?

हमारी इस भाग-दौड़ भरी जिंदगी में Over Thinking होना यह एक आम बात है। विद्यार्थियों के लिए अगर कल के पेपर की पढ़ाई ना हुई हो तो वे पिछली रात में पेपर के बारे में सोच-सोच कर डर जाते हैं, अभिभावक परेशान होकर सोचने लगते हैं कि, उनका बेटा/उनके बेटी को घर आने में इतनी देर क्यों हुई? यह कुछ Over Thinking के उदाहरण हैं।

पर Over Thinking के वजह से हमारे स्वास्थ ऊपर बेहद बुरा परिणाम पड़ता है। हम उत्तरों की खोज में होते हैं पर सामने हमें सिर्फ प्रश्न मिलते हैं और हम सिर्फ कल्पनात्मक समस्याओं का विचार करते रहते हैं जो कभी वास्तविकता में हैं ही नहीं। फिर भी हम उन कल्पनात्मक परेशानियों के बारे में इतना सोचते रहते हैं कि, हमारा दिमाग वास्तविकता के बारे में सोचने के लिए खाली ही नहीं रहता।

Over Thinking can complicate your life. Think less, limit stress.
Over Thinking आपके जीवन को जटिल बनाता है। कम सोचिए, टेंशन को मर्यादित रखिए।

पर फिर कभी आप इस Over Thinking के भँवर में फसने लगें तो अपने आप को बचाने के लिए यह नीचे दी गई कुछ टिप्स आजमाएँ-

1. Take a deep breath…

कभी कभी आपके दिमाग को पूरी तरह शांत रखना भी बेहद जरूरी है। आपके दिमाग में दौड़ रहे उन विचारों के घोड़ों को शांत करके आपके दिमाग को सही दिशा में चलाना महत्वपूर्ण है। Over Thinking के वक्त शांत रहना, यही सबसे बेहतर होता है। इसलिए लम्बी साँस लीजिए और इस वक्त आप खुद पर और सिर्फ आप अपने आप पर ही पूरा ध्यान केंद्रित कीजिए।

Take a deep breath. It's just a bad time and not the bad life.
एक लम्बी साँस लीजिए। ये सिर्फ एक बुरा दौर है, ना की एक बुरा जीवन।

2. Do not under estimate yourself…

हमेशा जब आप उन विचारों के गहरे खाई में खोते जा रहे हो तो खुद को सम्भालकर, आपका पूरा ध्यान खुद पर इकट्ठा कीजिए। आपके खुद के ऊपर ध्यान केंद्रित करके आप खुद को वर्तमान स्थिति में लाकर Over Thinking से बचे रहेंगे।

It's better to cross the line and suffer the consequences, than to stare at that line for the rest of your life.
यह बेहतर है कि, आप उस रेखा को पार करके आने वाले परिणामों को सहन करें,बजाय उस रेखा को जीवन भर बैठे देखते रहने से।

 3. Stay away yourself from negative people.

 अगर आपके दिमाग के विचारों का कारण नकारात्मक लोग हैं तो आपको जरूरत है उन नकारात्मक लोगों से खुद को दूर ले जाने की। पर अगर नकारात्मक लोग खुद आपके घर में हों, आपके दोस्त हो या फिर आपके ऑफिस में हों तो उनसे खुद को दूर ले जाना सम्भव नहीं। इसलिए इस परिस्थिति में, उन लोगों की बातों को जवाब देने से अच्छा है शांत रहकर खुद के दिमाग को शांत करके उस पर काबू पा लिया जाए।

If people are trying to bring you down, then it only means that you are above them.
अगर लोग आपको नीचे लाने का प्रयत्न कर रहे हैं तो इसका सिर्फ इतना ही मतलब है कि, आप उनसे ऊपर हैं।

 4. Take support of your interest...

अगर आपको कुछ गतिविधियों में रुचि है तो तुरंत उसका इस्तेमाल कीजिए। आपके दिमाग को उन गतिविधियों में व्यस्त रख कर आप Over Thinking से दूर रह सकते हैं।

In our hobbies we reveal how beautiful we are.
हमारी मनपसंद गतिविधियों में हमें पता चलता है कि, हम कितने सुंदर हैं।

 5. Consult a mature person...

आपके दिमाग के विचारों को किसी ऐसे व्यक्ति के साथ शेयर करें जो उन विचारों को सहजता से समझ सके और उन विचारों को सही या गलत ये परखने के बजाय खुशी से हँसकर आपके साथ बैठकर आपके पूरे विचारों को सुन लें। ऐसे समझदार व्यक्ति कोई भी हो सकते हैं जैसे, आपके माता या पिता, आपके बेस्ट फ्रेंड, आपके कोई रिश्तेदारों में से या फिर आपके पति या आपकी पत्नी।

People don’t always need advice. Sometimes all they need is a hand to hold, an ear to listen and a heart to understand them.
लोगों को हमेशा सलाह की जरूरत नहीं पड़ती। कभी-कभार उन्हें जरूरत पड़ती है एक हाथ थामने के लिए, कान जो उनकी बातें सुन सके और एक दिल जो उनकी बातों को समझ सके। 

6. Change what you can and adapt what you can't change...

जो चीजें आप बदल सकते हैं उन्हें बदलिए और जो आप नहीं बदल सकते उन्हें अपनाइए।

जो चीजें आपकी क्षमता में हैं उन्हें बदलिए, पर जो चीजें आप बदल नहीं सकते उन्हें अपना लीजिए। आपको ये समझ लेना होगा कि, जो चीजें आपकी क्षमता से बाहर हैं उन्हें आप नहीं बदल सकते। पर जो चीजें आपकी क्षमता में हैं उन्हें आप आपकी खुशी के लिए जरूर बदल सकते हैं। 

There is so much freedom in recognizing and accepting the reality.
इसमें बहुत स्वतंत्रता है कि, आप वास्तविकता को जानिए और उसे समझिए।


मैं यह आशा करता हूँ कि, यह उपरोक्त दी गई टिप्स आपको Over Thinking से बचाएगी।

लेख अच्छा लगने पर Share करें और अपनी प्रतिक्रिया Comment के रूप में अवश्य दें जिससे हम और भी अच्छे लेख आप तक ला सकें। यदि आपके पास भी कोई लेख, कहानी, किस्सा हो तो आप हमें भेज सकते हैं, पसंद आने पर लेख को आपके नाम के साथ भन्नाट.कॉम पर पोस्ट किया जाएगा, अपने सुझाव आप wordparking@gmail.com पर भेजें, साथ ही Twitter पर फॉलो करें Twitter@Bhannaat

Previous
Next Post »
loading...