No One Helped Him But He Is Helping Everyone

एक अच्छे व्यक्ति की, सच्ची कहानी...

Ek achchhe vyakti kee Sachchi Kahani...
एक रात मेरी Wife के पेट में अचानक बहुत ज़ोर का दर्द होने लगा। उसका दर्द मुझसे देखा नहीं गया। मैं जल्द ही Taxi लेने बाहर की तरफ भागा। अपनी Wife को हाथों में उठाकर मैं Taxi रोकने की कोशिश कर रहा था लेकिन किसी ने भी Taxi नहीं रोकी। मैं बहुत Frustrated हो रहा था, समझ नहीं आ रहा था कि, क्या करूँ और क्या ना करूँ...? मेरी Wife दर्द सहन नहीं कर सकी और इस दुनिया को छोड़ कर चली गई...

इस घटना के बाद मैंने क्या किया...?

फिर मैंने Larson And Turbo Company से सबसे पहले अपनी Job छोड़ी जहाँ मैं Engineer था मुझे अच्छा खासा वेतन मिलता था। मैंने अपनी Job इसलिए छोड़ी ताकि मैं Taxi चला सकूँ और मुसीबत मैं फँसे लोगों की Help कर सकूँ। मैं अब करीब 10,000 रूपए General Passengers से कमाता हूँ और मेरे जीवन का अब एक ही लक्ष्य है कि, मैं अब जरुरतमंद लोगों की Help करूँ। मैं किसी भी समय लोगों की हेल्प करने के लिए तैयार हूँ भले ही वे मुझे सुबह 3 बजे Emergency में फ़ोन करें। मैं ऐसे लोगों को Free में उनकी सही जगह पर छोड़ कर आता हूँ।

करीब 1 साल पहले जब मैंने Taxi चलाना शुरू ही किया था Morning के 2 बजे थे और दो लोगों को Taxi की बहुत जरूरत थी। मैंने हमेशा की तरह अपनी Taxi उनके लिए रोकी और मुझे Realize हुआ कि, उन दोनों के साथ एक औरत भी थी जो बुरी तरह से जल गई थी। मुझ से पहले और भी कई Taxi Driver उनके सामने से निकले पर किसी ने उनके लिए Taxi नहीं रोकी। 

इस Incident को देख कर मेरा दिल भर आया। मैंने उस औरत को कम्बल दिया जिसे मैं हमेशा अपनी Taxi मैं रखता हूँ। फिर मैं उन्हें सबसे पास के Hospital ले गया और उस औरत को वहाँ Admit करवा दिया। भगवान की कृपा से वो बच गई और अब बिलकुल सही है। उस घटना के बाद से हम लोग Friend हैं और वो मुझे आज भी उस रात के लिए धन्यवाद देती है।

26 July 2011 की बाड़ में भी कई लोग फँसे हुए थे। मैंने वहाँ जा-जाकर ऐसे बहुत से लोगों को वहाँ से सही जगह पर पहुँचाया जिन्हें मेरी जरूरत थी। मेरा मानना है कि, पैसा ही सब कुछ नहीं है क्योंकि पैसा जरूरत के समय पर कभी-कभी काम नहीं आता। मानवता सभी के अन्दर होनी चाहिए।

मैं पहले अपनी Engineering की Job में 65,000 कमाता था लेकिन मैं उतना खुश कभी नहीं था जितना कि मैं आज हूँ। मैं 74 साल का हूँ, 11 से ज्यादा Language बोल लेता हूँ। मेरे बच्चे भी है जो Private संस्था चलाते हैं। मैं आज तक 500 से ज्यादा Cases को Free में Hospital पहुँचा चुका हूँ। कम से कम पूरी कोशिश करता हूँ कि, मैं किसी भी तरह उनकी जान बचा सकूँ और ऐसे ही आगे भी उन्हें Hospital पहुँचाता रहूँगा। यदि इस नेक काम के लिए मुझे सिर्फ Ordinary Taxi Driver कहा जाता है तो मैं उसमे भी गर्व Feel करता हूँ।

दोस्तों ये थी एक Mumbai में रहने वाले एक Ordinary Taxi Driver की कहानी। जिनके साहस ने एक नई दिशा को जन्म दिया। 

किसी ने सही कहा है Everything is Impossible Until you Do It. 

दूर से बहुत सी Problems बड़ी लगती है लेकिन इंसान जब ठान ले कि, मुझे कुछ कर के दिखाना है तो वो पत्थर से भी पानी निकाल देता है। किसी की सेवा करने से जो आनंद प्राप्त होता है उसे शब्दों में पिरोना लगभग Impossible है ये Feel करने के लिए आपको किसी की Help करनी ही होगी। कुछ लोग होते हैं जो विपरीत परिस्थितियों में टूट जाते है और कुछ लोग विपरीत परिस्थितियों में ही कुछ बन कर दिखाते हैं।

ये केवल एक Story नहीं ये एक Autobiography है, ये एक मानवता का एक बहुत ही अच्छा Example है। ये उन लोगों के लिए Example है जो आज सिर्फ 21st Century की सोच रखते हैं। ये कहानी एक ऐसे इंसान की है जो एक Normal Life जीते हुए भी लोगों की Full Time सेवा करता है।

ऐसे नेक इंसान को और उनके जज्बे को Bhannaat.com सलाम करता है।

लेख अच्छा लगने पर Share करें और अपनी प्रतिक्रिया Comment के रूप में अवश्य दें, जिससे हम और भी अच्छे लेख आप तक ला सकें। यदि आपके पास भी कोई लेख, कहानी, किस्सा हो तो आप हमें भेज सकते हैं, पसंद आने पर लेख को आपके नाम के साथ भन्नाट.कॉम पर पोस्ट किया जाएगा, अपने सुझाव आप Wordparking@Gmail.Com पर भेजें, साथ ही Twitter पर फॉलो करें Twitter@Bhannaat.
धन्यवाद
Previous
Next Post »
loading...