Geography of India and Facts in Hindi

“भारत की भोगोलिक स्थिति और विस्तार”



आवश्यक निर्देश भारत की भौगोलिक अवस्थिति और विस्तार के लिए—

1. नीचे भारतीय भूगोल का पहला अध्याय प्रस्तुत है।
2. आप से अपेक्षा है कि, आप इसे पढ़ते समय ऑक्सफोर्ड स्टूडेंट एटलस का भी प्रयोग करेंगे।


“भारत की भोगोलिक स्थिति और विस्तार”


भारत का क्षेत्रफल 32 लाख 87 हज़ार वर्ग किलोमीटर (सुविधा की दृष्टि से) है।

भारत उत्तरी और पूर्वी गोलार्ध का देश है

उत्तरी गोलार्ध-भारत विषुवत रेखा के उत्तर में स्थित है ।

पूर्वी गोलार्ध-भारत ग्रीनविच देशांतर के पूर्व में स्थित है ।

भारत की मुख्य भूमि (द्वीपों को छोड़कर) का अक्षांशीय विस्तार- 8.4 डिग्री उत्तरी अक्षांश से 37.6 डिग्री उत्तरी अक्षांश तक है , जबकि देशंतारीय विस्तार 68.7 पूर्वी से 97.25 पूर्वी देशांतर तक है। इस प्रकार भारत के पूर्वी छोर (अरुणांचल प्रदेश) और पश्चिमी छोर (गुजरात) के मध्य लगभग 30 देशांतर रेखाओ का अंतर है।



पृथ्वी की सम्पूर्ण गोलाई 360 डिग्री है। पृथ्वी को 360 डिग्री घूमने में 24 घंटे (अर्थात 1440 मिनट) का समय लगता है। अतः पृथ्वी को 1 डिग्री देशांतर घुमने में 4 मिनट का समय लगता है। अतः पृथ्वी को 30 डिग्री देशांतर (अरुणांचल प्रदेश से गुजरात तक) घूमने में 30 × 4 = 120 मिनट अर्थात 2 घंटे का समय लगता है। यही कारण है की अरुणांचल प्रदेश और गुजरात के समय में 2 घंटे का अंतर होता है। इसका अर्थ ये है कि, यदि अरुणांचल प्रदेश में सुबह के पांच बजे सूर्योदय होगा तो गुजरात में सुबह लगभग 7 बजे सूर्योदय होगा क्योंकि गुजरात पश्चिम में स्थित है और पृथ्वी पश्चिम से पूर्व की और घूम रही है। इसलिए अरुणांचल प्रदेश में सूर्योदय पहले होगा और गुजरात में सूर्योदय 2 घंटे बाद होगा।



मानक समय

एक ही देश के पूर्वी और पश्चिमी छोर के मध्य अगर 2 घंटे का अंतराल होगा तो देश में कामकाज सम्बन्धी अनेक समस्याएँ पैदा हो जाएँगी इसलिए 82.5डिग्री पूर्वी देशांतर रेखा को भारत की मानक समय रखा गया है जो कि, उत्तर प्रदेश के इलाहबाद जिले के नैनी से हाकर गुजरती है। इसका अर्थ ये हुआ कि, जो समय 82.50 डिग्री पूर्वी देशांतर पर होगा वही पूरे देश का समय स्वीकर किया जाएगा। अब सवाल है कि, 82.50 डिग्री पूर्वी देशांतर को ही भारत की मानक समय रेखा क्यों स्वीकार किया गया?



तो इसका जवाब ये है कि, 68 डिग्री देशांतर (भारत का पश्चिमी छोर) और 97 डिग्री देशांतर (पूर्वी छोर) के बिलकुल मध्य में 82.50 डिग्री देशांतर आता है, इस कारण 82.50 डिग्री देशांतर देश के बिलकुल मध्य से गुजरता है। यही कारण है कि 82.50 डिग्री पूर्वी देशांतर को भारत की मानक समय रेखा के रूप में स्वीकार किया गया है।

82.5 डिग्री पूर्वी देशांतर अर्थात ‘भारतीय मानक समय रेखा’ भारत के 5 राज्यों (उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश छत्तीसगढ़, उड़ीसा और और आंध्र प्रदेश ) से होकर गुजरती है।

भारत का समय इंग्लैंड के समय से 5 घंटे 30 मिनट आगे है। आइये इसे समझते हैं कि कैसे आगे हैं? 0 डिग्री देशांतर लंदन के ग्रीनविच से गुजरता है जबकि 82.50 डिग्री पूर्वी देशांतर भारत से गुजरता है। पृथ्वी को 1 डिग्री देशांतर घूमने में 4 मिनट का समय लगता है। इसलिए 82.50 डिग्री घूमने में 82.5 × 4 = 330 मिनट अर्थात 5 घण्टे 30 मिनट का समय लगेगा। ध्यान दीजिए पृथ्वी पश्चिम से पूर्व की तरफ घूमती है। यही कारण है कि, दिल्ली का समय लंदन के समय से साढ़े पांच घंटे आगे है।



अक्षांश रेखा:-

अक्षांश रेखा भारत के 8 राज्यों से होकर गुजरती है जो पश्चिम से पूर्व की और इस प्रकार है–

गुजरात – राजस्थान- मध्यप्रदेश – छत्तीसगढ़ – झारखण्ड – पश्चिम बंगाल -त्रिपुरा और मिजोरम।

अक्षांश रेखा की सबसे ज्यादा लम्बाई किस राज्य में है – मध्य प्रदेश।
झारखण्ड की राजधानी रांची अक्षांश रेखा पर स्थित है।
रांची के बाद गुजरात की राजधानी गांधीनगर और मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल अक्षांश रेखा के बिलकुल समीप है।

भारत की सीमा–

भारत की स्थलीय सीमा की लम्बाई 15200 किमी है।

मुख्य भूमि की तटीय सीमा की लम्बाई 6100 किमी है

द्वीपों समेत भारत की तटीय सीमा की लम्बाई 7516 किमी है।

इस प्रकार भारत की कुल सीमा की लम्बाई– 15200 + 7516= 22716 किमी है।

भारत के 9 राज्य तट पर स्थित हैं जो इस प्रकार हैं–

1. गुजरात,
2. महाराष्ट्र,
3. गोवा,
4. कर्नाटक,
5. केरला,
6. तमिलनाडु,
7. आन्ध्र प्रदेश,
8. उड़ीसा,
9. पश्चिम बंगाल।



तटीय सीमा–


भारत की कुल तटीय सीमा की लम्बाई 7,516 किमी है।
सबसे लम्बी तट रेखा वाला राज्य- गुजरात है।
दूसरा सबसे लम्बा तट रेखा वाला राज्य-आन्ध्र प्रदेश है।
तीसरी सबसे बड़ा तट रेखा वाला राज्य- तमिलनाडु है।
सबसे छोटा तट रेखा वाला राज्य – गोवा है।
भारत की स्थलीय सीमा–



स्थलीय सीमा की लम्बाई 15,200 किमी है।

भारत के साथ 7 देश स्थलीय सीमा बनाते है:-

1. पाकिस्तान,
2. अफगानिस्तान,
3. चाइना,
4. नेपाल,
5. भूटान,
6. म्यांमार,
7. बांग्लादेश।



पाकिस्तान के साथ सीमा बनाने वाले भारतीय राज्य है-

1. गुजरात
2. राजस्थान
3. पंजाब
4. जम्मू कश्मीर सीमा।

बांग्लादेश के साथ सीमा बनाने वाले भारतीय राज्य हैं–



1. पश्चिमबंगाल,
2. मेघालय,
3. असम,
4. त्रिपुरा
5. मिजोरम।

त्रिपुरा एक ऐसा राज्य है जो बांग्लादेश से 3 तरफ से घिरा हुआ है।



भारत के 4 राज्य ऐसे हैं जो 3 देशो के साथ सीमा बनाते हैं, ये हैं–

1. जम्मू और कश्मीर- यह पाकिस्तान, अफ़ग़ानिस्तान और चीन के साथ सीमा बनाता है।
2. सिक्किम- यह नेपाल, चाइना और भूटान के साथ सीमा बनाता है।
3. पश्चिम बंगाल- जो कि नेपाल, भूटान और बांग्लादेश के साथ सीना बनाता है।
4. अरुणांचल प्रदेश – जो भूटान, म्यांमार और चीन के साथ सीमा बनाता है।



भारत का दक्षिणतम बिंदु- बंगाल की खाड़ी में ग्रेट निकोबार द्वीप पर स्थित “इंदिरा पॉइंट” है जो कि, 6.4 उत्तरी अक्षांश पर स्थित है। यद्यपि भारत के मुख्य भूमि पर दक्षिणतम बिंदु- कन्याकुमारी(तमिलनाडु) है जो कि 8.4 उत्तरी अक्षांश पर स्थित है।

भारत की अंतरराष्ट्रीय सीमाओं के नाम–
1. डूरंड रेखा- पाकिस्तान और अफ़ग़ानिस्तान के बीच स्थित है। ( 1947 के पहले भारत और अफ़ग़ानिस्तान के बीच)
2. मैकमोहन रेखा- चीन और अरुणांचल प्रदेश के बीच।
3. रेडक्लिफ रेखा- भारत और पाकिस्तान की सीमा को रेडक्लिफ रेखा कहते हैं। यह रेखा 15 अगस्त-1947 को अस्तित्व में आई।

भारत में 29 राज्य और 7 केंद्र शासित प्रदेश हैं।
भारत का 29 वां राज्य तेलंगाना 2 जून 2014 को अस्तित्व में आया।

क्षेत्रफल के अनुसार भारत के सबसे बड़ा राज्य क्रमशः- राजस्थान >मध्य प्रदेश>महाराष्ट्र>उत्तर प्रदेश



नोट– आँध्रप्रदेश के विभाजन से पहले क्षेत्रफल में चौथा सबसे बड़ा राज्य आंध्रप्रदेश था लेकिन 2 जून, 2014 के बाद चौथा सबसे बड़ा राज्य उत्तरप्रदेश हो गया।

क्षेत्रफल के अनुसार सबसे छोटा राज्य- गोवा है।
2011 की जनगणना में जनसँख्या के आधार पर सबसे बड़ा राज्य- उत्तर प्रदेश(19 करोड़ 95लाख ) है।
जबकि जनसँख्या के अनुसार सबसे छोटा राज्य- सिक्किम है।
राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशो में क्षेत्रफल के अनुसार सबसे छोटा राज्य- लक्ष्यद्वीप है।
सबसे ज्यादा राज्यों के साथ सीमा बनाने वाला भारतीय राज्य कौन सा है – उत्तर प्रदेश। उत्तर प्रदेश 8 राज्यों और 1 केंद्र शासित प्रदेश के साथ सीमा बनाता है जो इस प्रकार हैं–
उत्तराखंड, हिमांचल प्रदेश, हरयाणा, राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखण्ड, बिहार और दिल्ली (केंद्र शासित प्रदेश)

क्षेत्रफल में भारत का सबसे बड़ा जिला गुजरात का कच्छ है।
क्षेत्रफल में भारत का सबसे छोटा जिला पांडिचेरी का ‘माहे जिला’ है जोकि केरल राज्य के भीतर है।
भारत में 6 लाख 41 हजार गाँव हैं।



भारत के 7 केंद्र शासित प्रदेश और उनकी राजधानियां इस प्रकार हैं–

1. चंडीगढ़ :- पंजाब और हरयाणा की राजधानी भी है।
2. दिल्ली :- राजधानी- नई दिल्ली
3. दादरा और नगर हवेली :- महाराष्ट्र और गुजरात की सीमा पर स्थित है, इसकी राजधानी – सिलवासा है।
4. पुद्दुचेरी:- पुडुचेरी 4 जिलों से बना है। ये चारों जिले 3 राज्यों में स्थित हैं–

A. माहे- केरल में स्थित है
B. पांडिचेरी- तमिलनाडु में स्थित है
C. कराईकल – तमिलनाडु में स्थित है
D. यनम -आंध्र प्रदेश में स्थित है.


लेख अच्छा लगने पर Share करें और अपनी प्रतिक्रिया Comment के रूप में अवश्य दें, जिससे हम और भी अच्छे लेख आप तक ला सकें। यदि आपके पास भी कोई लेख, कहानी, किस्सा हो तो आप हमें भेज सकते हैं, पसंद आने पर लेख को आपके नाम के साथ भन्नाट.कॉम पर पोस्ट किया जाएगा, अपने सुझाव आप Wordparking@Gmail.Com पर भेजें, साथ ही Twitter पर फॉलो करें

धन्यवाद !!

Previous
Next Post »