Rivers around the World in Hindi

विश्व की प्रमुख नदियाँ...


● जल के आयतन के आधार पर विश्व की सबसे बड़ी नदी कौन-सी है— अमेजन नदी

● यूरोप महाद्वीप की सबसे बड़ी नदी कौन-सी है— वोल्गा नदी

● वोल्गा नदी कहाँ गिरती है— कैस्पियन सागर में

● कौन-सी नदी भ्रंश घाटी से होकर बहती है— वोल्गा नदी

● किस सभ्यता को ‘नील नदी का वरदान’ कहा जाता है— मिस्त्र की सभ्यता को

● यूरोप की कौन-सी नदी ‘कोयला नदी’ के नाम से जानी जाती है— राइन नदी

● कौन-सी नदी भूमध्य रेखा को दो बार काटती है— कांगो नदी

● किस नदी का उद्गम स्थल भूमध्य रेखा के निकट से होता है— नील नदी

● विश्व की सबसे अधिक विश्वासघाती नदी किसे कहा जाता है— ह्वांग हो नदी को

● कौन-सी नदी मकर रेखा को दो बार काटती है— लिम्पोपो

● किस नदी को ‘यूरोपीय व्यापार की जीवन रेखा’ कहा जाता है— राइन नदी

● बंग्लादेश में किस नदी को पद्मा के नाम से जाना जाता है— गंगा नदी

● किस नदी को ‘तेल नदी’ कहा जाता है— नाइजर को

● रूस की सबसे महत्वपूर्ण नदी कौन सी है— वोल्गा

● लाल नदी किस देश से होकर बहती है— वियतनाम से

● मरे-डार्लिग नदी कहाँ बहती है— ऑस्ट्रेलिया में

● किस नदी को ‘चीन का शोक’ कहा जाता है— ह्वांग हो नदी

● विश्व की सबसे चैड़ी नदी कौन-सी है— अमेजन

● विश्व की सबसे लम्बी नदी कौन-सी है— इराक

● दक्षिणी अमेरिका की सबसे बड़ी नदी कौन-सी है— अमेजन नदी

● पराना तथा पराग्वे नदियों को संगम के बाद किस नाम से जाना जाता है— लाप्लाटा नदी

● कौन-सी यूरोपीय नदी ब्लैक फोरेस्ट से निकलकर काला सागर में गिरती है— डेन्यूब नदी

● जो नदी सागर तक नहीं पहुँचती और रास्ते में ही लुप्त हो जाती है उसे क्या कहते हैं— अंतः स्थलीज नदी

● अमेजन नदी का उद्गम स्थल क्या है— एंडीज पर्वत

● लीना नदी किस सागर में जाकर गिरती है— लाप्टेव सागर

● मैकेंजी नदी कहाँ से निकलती है— ग्रेट स्लेव झील से

● मरे-डार्लिंग नदी किस सागर में गिरती है— दक्षिण महासागर

● ओबे नदी का उद्गम स्थल कौन-सा है— अल्टाई पर्वत

● नाइजर नदी किस खाड़ी में जाकर मिल जाती है— गिनी की खाड़ी में

विश्व की दस चर्चित नदियाँ...

जल जीवन है और नदी जीवनदायनी... नदियाँ मनुष्य और अन्य जीव जंतुओं को जीवन ही नहीं देती पर्यावरण को संतुलित करने में योगदान भी देती हैं...

मानव सभ्यता के विकास में नदियों की बहुत बड़ी भूमिका रही है। प्राचीन काल से ही दुनिया के हर हिस्से में नदियों की उपयोगिता को पहचाना गया। नदियाँ हमें पीने और खेतों की सिंचाई के लिए पानी तो उपलब्ध कराती ही हैं, यातायात और एक स्थान से दूसरे स्थान तक सामान ले जाने का रास्ता भी मुहैया कराती हैं। इतना ही नहीं, नदियाँ वन्य जीवन के लिए महत्वपूर्ण आवास भी प्रदान करती हैं और पर्यावरण का संतुलन बनाने में योगदान देती है।

1 अमेजन नदी


करीब 6,400 किलोमीटर लम्बी अमेजन, नील नदी के बाद दुनिया की दूसरी सबसे लम्बी नदी है। यह नील से थोड़ी-सी छोटी है। हालाँकि विशेषज्ञ दोनों नदियों की ठीक-ठीक लम्बाई से सहमत नहीं। हाँ, इतना निश्चित है कि, पानी के हिसाब (वॉल्यूम) से यह दुनिया की सबसे लम्बी नदी है। अटलांटिक महासागर में गिरने से पहले अमेजन और इसकी सहायक नदियाँ पेरू, बोल्विया, वेनेजुएला, कोलम्बिया, इक्वाडोर और ब्राजील से गुजरती हैं। अमेजन नदी में मछलियों की 3,000 से ज्यादा प्रजातियाँ पाई जाती हैं।

2 नील नदी


दुनिया की सबसे लम्बी नदी का खिताब इसी को मिला है। यह पूर्वी अफ्रीका से उत्तर और फिर मेडिटेरियन तक 6,650 किलोमीटर के दायरे में फैली है। नील की दो बड़ी सहायक नदियाँ हैं- व्हाइट नील और ब्लू नील। मिस्र की प्राचीन सभ्यता के विकास में नील नदी की बहुत बड़ी भूमिका मानी जाती है। नील नदी को इसीलिए ‘मिस्र का वरदान’ भी कहा जाता है।

3 यांग्तजी नदी


यह चीन की सबसे लम्बी और दुनिया की तीसरी सबसे लम्बी नदी है। यह करीब 6,300 किलोमीटर लम्बी है। इसका उद्गम तिब्बती पठार के पूर्वी हिस्से में स्थित ग्लेशियर है। अद्भुत प्राकृतिक सौंदर्य वाले यांग्तजी गोज्रेस से गुजरती हुई यह ईस्ट चाइना सी में मिल जाती है। यांग्तजी नदी पर बनाया गया बांध ‘थ्री गोज्रेज डैम’ दुनिया का सबसे बड़ा हाइड्रो-इलेक्ट्रिक पावर स्टेशन है। यह नदी दुनिया का सबसे व्यस्त जलमार्ग भी है।

4 डैन्यूब नदी


यह यूरोप की सबसे महत्वपूर्ण नदियों में से एक है। यह इस महाद्वीप की वोल्गा नदी के बाद दूसरी सबसे लम्बी नदी है। यह नदी लम्बे समय तक रोमन साम्राज्य की प्रहरी रही। आज यह 10 यूरोपीय देशों की सीमा बनाती है। यह जर्मनी के ब्लैक फॉरेस्ट से निकलती है और 2,850 किलोमीटर के सफर के बाद ब्लैक सी में मिलती है।

5 गंगा नदी


गंगा हमारे देश की सबसे पवित्र नदी मानी जाती है। इसकी पूजा की जाती है। गंगा का उद्गम पश्चिमी हिमालय है। 2,510 किलोमीटर लम्बी यह नदी पश्चिम बंगाल के सुंदरबन डेल्टा में गिरती है। गंगा का प्राचीन काल से ही धार्मिक और ऐतिहासिक महत्व रहा है। गंगा के महत्व को देखते ही इसे ‘राष्ट्रीय नदी’ घोषित किया गया है।

6 मेकांग नदी


यह दुनिया की 12वीं सबसे लम्बी नदी है जिसकी लम्बाई 4350 किलोमीटर है। तिब्बत के पठार से निकली यह नदी चीन के युयान प्रांत से होती हुई म्यांमां, लाओस, कम्बोडिया, थाईलैंड से गुजरती है।

7 जाम्बेजी नदी


अफ्रीका में यह चौथी सबसे लम्बी नदी है जिसकी लम्बाई 3,450 किलोमीटर है। यह नदी उत्तर-पश्चिम जाम्बिया के वेटलैंड से निकलती है और अंगोला से होती हुई नामीबिया, बोत्सवाना, जांबिया, जिम्बाब्वे और मोजांबिक होती हुई हिंद महासागर में मिलती है। जाम्बेजी की शानदार विशेषता विक्टोरिया प्रपात है।

8 वोल्गा नदी


यह यूरोप की सबसे लम्बी और रूस की सबसे महत्वपूर्ण नदियों में से एक है। रूस के सबसे बड़े 20 शहरों में से 11 वोल्गा के ड्रेनेज बेसिन में स्थित हैं जिनमें राजधानी मास्को भी शामिल है। यह मात्र 225 मीटर की ऊंचाई पर वाल्दे हिल्स से निकलती है और 3,645 किलोमीटर लम्बा सफर तय करते हुए कैस्पियन सागर में गिरती है।

9 मिसीसिपी नदी


करीब 3,730 किलोमीटर लम्बी मिसीसिपी अमेरिका और उत्तरी अमेरिका की सबसे लम्बी नदी है। यह इतास्का नामक झील से निकलती है और मैक्सिको की खाड़ी में खत्म होती है।

10 सेपिक नदी


यह न्यू गिनी आइसलैंड की सबसे लम्बी नदी है। इसका उद्गम पापुआ न्यू गिनी के पहाड़ों में है। अन्य बड़ी नदियों की तरह इसका को ई डेल्टा नहीं है और यह सीधे समुद्र की तरफ बहती है। इस नदी की कुल लम्बाई 1,128 किलोमीटर है।


लेख अच्छा लगने पर Share करें और अपनी प्रतिक्रिया Comment के रूप में अवश्य दें, जिससे हम और भी अच्छे लेख आप तक ला सकें। यदि आपके पास भी कोई लेख, कहानी, किस्सा हो तो आप हमें भेज सकते हैं, पसंद आने पर लेख को आपके नाम के साथ भन्नाट.कॉम पर पोस्ट किया जाएगा, अपने सुझाव आप Wordparking@Gmail.Com पर भेजें, साथ ही Twitter पर फॉलो करें


धन्यवाद !!!
Previous
Next Post »