Understand the Value of Others in Hindi

Understand the Value of Others in Hindi...




एक बार एक सुन्दर दिखने महिला विमान में प्रवेश हुई और अपनी सीट की तलाश search करने लगी।
उसने देखा कि, उसकी सीट एक ऐसे व्यक्ति के बगल में book हुई है जिसके दोनों हाथ नहीं है। उस lady को उस handicapped व्यक्ति के पास बैठने में problem हुई।

वह beautiful lady air-hostess से बोली "मैं इस सीट पर comfortably travel नहीं कर पाऊँगी क्योंकि साथ की seat पर जो व्यक्ति बैठा हुआ है उसके दोनों हाथ नहीं हैं।" 

उस lady ने air-hostess से seat change करने की request की। इस पर air-hostess ने पूछा, "madam, can you tell me any reason...?"

Lady ने answer दिया "actually i don't like this type of persons मैं ऐसे व्यक्ति के पास बैठकर travel नहीं कर पाऊँगी।"
Lady की यह बात सुनकर air-hostess हैरान रह हो गई क्योंकि वह देखने मे educated लग रही थी। उस ने एक बार फिर air-hostess से जोर देकर कहा कि "मैं उस सीट पर नहीं बैठ सकती। अतः मुझे कोई दूसरी सीट दी जाए।"



Air-hostess ने खाली सीट search की लेकिन वहां कोई और seat खाली नहीं थी। air-hostess ने उस lady से कहा कि, madam, इस economy class में कोई seat खाली नहीं है, but it is our duty to take care for our customers... अतः मैं विमान के captain से बात करती हूँ। कृपया तब तक थोड़ा धैर्य बनाए रखें।" 

ऐसा कहकर air-hostess captain से बात करने चली गई। कुछ समय बाद लौटकर उसने महिला को बताया, madam! आपको जो असुविधा हुई, उसके लिए हमें बहुत खेद है| इस aeroplane में केवल एक seat खाली है और वह first class में है। मैंने हमारी team से बात की और हमने एक असाधारण decision लिया। किसी एक यात्री को economy class से first class में भेजने का कार्य हमारी airline के इतिहास में पहली बार हो रहा है।"



वह lady बहुत खुश हो गई, लेकिन इसके पहले कि, वह अपनी feelings express करती और एक शब्द भी बोल पाती air-hostess उस handicapped जिसने अपने दोनों हाथ गवां दिए थे, से पूछा "sir, क्या आप प्रथम श्रेणी में जाना पसंद करेंगे...? क्योंकि हम नहीं चाहते कि, आप एक अशिष्ट यात्री के साथ travel करके परेशान हों। यह बात सुनकर अन्य सभी यात्रियों ने ताली बजाकर इस superb decision का स्वागत किया। वह beautiful lady तो अब शर्म से नजरें ही नहीं उठा पा रही थी। 

उस अपाहिज व्यक्ति ने खड़े होकर कहा, "मैं एक भूतपूर्व (soldier) सैनिक हूँ और मैंने एक operation के दौरान Kashmir border पर हुए bomb में अपने दोनों हाथ खोए थे। सबसे पहले, जब मैंने इस lady की चर्चा सुनी, तब मैं सोच रहा था कि,, मैंने भी ऐसे लोगों की सुरक्षा के लिए अपनी जान जोखिम में डाली और अपने हाथ खोए? लेकिन जब आप सभी की प्रतिक्रिया देखी तो अब मुझे अपने आप पर गर्व feel हो रहा है कि, मैंने अपने देश और देशवासियों के लिए अपने दोनों हाथ खोए और इतना कह कर, वह first class में चले गए।



वह beautiful lady पूरी तरह से शर्मिंदा होकर सर झुकाए सीट पर बैठ गई।

Moral of the story:beauty is nothing without good thoughts.
अच्छे विचारों के बिना सुंदरता का कोई महत्व नहीं है।

Earn With Bhannaat.com भन्नाट.Com से जुड़ कर पैसा कमाएँ

Article अच्छा लगने पर Share करें और अपनी प्रतिक्रिया Comment के रूप में अवश्य दें, जिससे हम और भी अच्छे लेख आप तक ला सकें। यदि आपके पास भी कोई लेख, कहानी, किस्सा हो तो आप हमें भेज सकते हैं, पसंद आने पर लेख को आपके नाम के साथ Bhannaat.com पर पोस्ट किया जाएगा, अपने सुझाव आप Wordparking@Gmail.Com पर भेजें, साथ ही Twitter पर फॉलो करें।



धन्यवाद !!!

Previous
Next Post »