Allahabad changes to Prayagrag in Hindi

Allahabad changes to Prayagraj in Hindi...

इलाहाबाद अब प्रयागराज...

उत्तर प्रदेश सरकार का नया फैसला: 16 अक्टूबर 2018 को यूपी गवर्नमेंट द्वारा इलाहाबाद का नया नाम प्रयागराज रख दिया गया ध्यान देने योग्य बात यह है कि, यह घोषणा यूपी गवर्नमेंट द्वारा 15 अक्टूबर को की गई जो कि, अकबर का बर्थडे है

अकबरनामा और आईने अकबरी तथा अन्य मुगलकालीन ऐतिहासिक ग्रंथों से यहाँ ज्ञात होता है कि, अकबर द्वारा 1574 में इस शहर में किले की नींव रखी गई थी इसी समय इसका नाम इलाहाबाद कर दिया गया

इलाहाबाद का हिंदी अर्थ इलाहा अर्थात ईश्वर, बाद फारसी भाषा का शब्द है जिसका अर्थ होता है बसाना अर्थात ईश्वर के द्वारा बसाया गया नगर, परंतु शुरु से इसका नाम इलाहाबाद नहीं था पौराणिक हिंदू ग्रंथों के अनुसार इसका नाम प्रयागराज था सबसे प्राचीन पुराण मत्स्य पुराण के अनुसार प्रयाग प्रजापति का क्षेत्र है जहाँ गंगा यमुना सरस्वती का संगम होता है अर्थात त्रिवेणी यहीं पर है यहाँ भी कहा जाता है कि, भगवान श्रीराम प्रयाग में भारद्वाज ऋषि के आश्रम पर आए थे जिसके बाद इसका नाम प्रयागराज पड़ा

ऐसा भी कहा जाता है कि, ब्रह्मा जी ने इस सृष्टि का निर्माण करने के बाद प्रथम यज्ञ इसी भूमि पर किया था इसी कारण इसका नाम प्रयाग अर्थात यज्ञ की भूमि पड़ा, परंतु गौर करने वाली बात यह है कि, जब यह नगर इतना प्राचीन है तो अकबर ने दोबारा इसकी स्थापना कैसे कर दी इसका जवाब हमें इतिहासवेत्ता बताते हैं कि, यह नगर गंगा नदी के किनारे बसा था तथा नदी में बाढ़ आने के कारण यह नगर बर्बाद हो गया था फिर बाद में अकबर ने इसकी दोबारा स्थापना की तथा इसका नाम इलाहाबाद रख दिया

इस नगर का महत्व भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में भी बहुत अधिक रहा है महान क्रांतिकारी चंद्रशेखर आजाद ने देश के लिए अपने प्राणों की आहुति 27 फरवरी 1931 को अल्फ्रेड पार्क में दी जो कि, इलाहाबाद में ही है साथ ही कांग्रेस के वार्षिक अधिवेशन भी यहाँ पर होते रहे हैं, परंतु वर्तमान परिदृश्य को देखते हुए हमें यहां समझने की जरूरत होगी कि आज हमें शंघाई बिजींग न्यू यॉर्क जैसी सिटीज बनाने की जरूरत है या इतिहास को दोबारा कुरेदना

इतिहास का अपनी जगह एक महत्वपूर्ण महत्व है जिससे हमको सीखना चाहिए तथा आगे बढ़ना चाहिए ना कि, अपने आप को इतिहास में उलझाए रखना चाहिए

गौर करने वाली बात यह है कि, केवल एक नगर का नाम बदलने में हमें करोड़ों रुपए खर्च करना पड़े इतने रुपए में हम कई स्टार्ट अप खोल सकते थे जिसके जरिए कई लोगों को रोजगार मिलता और कई लोगों की भूख मिट जाती आज दिन पर दिन इंटरनेशनल इंडेक्स इसमें हमारी रैंक कम होती जा रही है अभी हाल ही में आई वर्ल्ड हंगर इंडेक्स में हमारी पोजिशन 103 है जो कि, वाकई में चिंताजनक है इसके अलावा और भी कई इंडेक्स में हमारी बैंक गिरती जा रही है



आज हमें दोबारा यह सोचने की जरूरत है कि, हम कहीं दोबारा उसी युग में तो नहीं जा रहे जहां पर हमारे ऊपर कई विदेशी आक्रमण हुए और हमारे देश में उन्होंने अपनी सत्ता काबिज की तथा हमारे कई पौराणिक नगरों के नाम बदल दिए गए

TAGS: Allahabad changes to Prayagraj in Hindi, Name changes in India, Indian city name changes, Allahabad history, Prayagraj history, History of allahabad, History of prayagraj, akbar aur allahabad, UP history, Yogi changes name


Article अच्छा लगने पर Share करें और अपनी प्रतिक्रिया Comment के रूप में अवश्य दें, जिससे हम और भी अच्छे लेख आप तक ला सकें। यदि आपके पास भी कोई लेख, कहानी, किस्सा हो तो आप हमें भेज सकते हैं, पसंद आने पर लेख को आपके नाम के साथ Bhannaat.com पर पोस्ट किया जाएगा, अपने सुझाव आप Wordparking@Gmail.Com पर भेजें, साथ ही Twitter पर फॉलो करें ।
धन्यवाद !!!

Previous
Next Post »