Autobiography of Guru Randhawa In Hindi

Love story of guru randhawa in hindi

Autobiography of Guru Randhawa In Hindiगुरु रंधावा का जीवन परिचय

● Name - Gurshanjeet Singh Randhawa
● Born - 30 August 1991
● Height - 5'45"
● Profession - singer, singh writer, music composer, film producer.
● Belongs to - Gurdaspur punjab
● Website - gururandhawa.Com

आप सभी गुरु रंधावा को तो जानते ही होंगे। आज जन्हें किसी introduction की आवश्यकता नहीं है, यह अपने गाये हुए गानों के कारण बहुत famous हो गए हैं।


Early life:

इनका जन्म नूरपुर डेरा बाबा नानक तहसील, गुरदासपुर में हुआ। इनकी बचपन से ही संगीत में रुचि थी। यह शुरू में शादियों, parties में कुछ stage shows भी किया करते थे। इन्हें सबसे पहले bhomiyan ने Guru कहा।


Career: 

इनके career का सबसे पहला गाना "same girl" था । इन्हें Arjun Coomaraswamy ही वह व्यक्ति हैं जिन्होंने गुरु रंधावा को youtube पर अपनी वीडियो में शामिल किया था। bollywood में hindi medium फ़िल्म में "तेनु सूट सूट करदा" इन्होंने सबसे पहला गाना गाया ओर वह गाना बहुत hit रहा। 


Love story of Guru Randhawa

गुरु रंधावा के एक लड़की से प्रेम संबंध थे वह उसे बहुत लंबे समय से follow कर रहे थे, एक दिन उन्होंने अपने दिल की बात उस लड़की को कह दी उस पर लड़की का reply था कि - मै तुझे like नहीं करती क्योंकि तेरे पास कुछ नहीं है क्योंकि उस समय तक वे settle नही थे और उनका career भी इतनी ऊंचाइयों पर नहीं था जितना कि आज है।

मज़े की बात तो यह है कि उस लड़की के लिए एक गाना भी लिखा था 
उस गाने का नाम था - "बन जा तू मेरी रानी" और ये गाना अभी कुछ साल पहले अभिनेत्री विद्या बालन जी की फिल्म तुम्हारी सुलू का हिस्सा बन गया।

आज गुरु रंधावा के नाम को हर व्यक्ति जानता है। कोई भी party और शादी इनके गानों के बिना अधूरी है। अभी पिछले वर्ष ही इनका गाना " कुड़ी लाहौर दी " विश्व के शीर्ष 25 गानों में शामिल हुआ। और गुरु रंधावा आज pitbul जैसे international singer के साथ गाने release कर चुके हैं।

अगर आप उत्सुक है कि बाद में उस लड़की का क्या हुआ तो जान लीजिए 3 साल बाद जब उसने देखा कि आज गुरु कहा पहुंच गए है तो उसने फिर से गुरु रंधावा को फोन किया और कहा मैं बोल रही हूँ। तो रंधावा ने जवाब दिया पर "मैं वो नहीं बोल रहा"


मेरा बस अपने देश के युवाओं के लिए यही message है कि यदि आपका दिल टूट भी जाये तो रोना बिल्कुल नहीं।

क्योंकि आप बड़े खुशकिस्मत हो क्योंकि मेरा यह experience है कि अक्सर जिंदगी में आगे बढ़ने के लिए जो kick चाहिए होती है ना, वही किक rejection से मिली है और फिर आप reality और illusion में फर्क समझने लगते हो तो इस रिजेक्शन को अपनी ताक़त बनाइए और लग जाइए आसमान की ऊंचाइयों को छूने के लिए।

फिर आपको भी फोन आ जाएगा कुछ सालों में और आशा करते हैं , आपका जवाब भी वही होगा।

Tags: biography of guru randhawa in hindi, love story of guru randhawa in hindi, autobiography of guru randhawa in hindi, guru randhawa kaun hai, guru randhawa ki prem kahani kya hai, guru randhawa ka jeewan parichay

लेख अच्छा लगने पर Share करें और अपनी प्रतिक्रिया Comment के रूप में अवश्य दें, जिससे हम और भी अच्छे लेख आप तक ला सकें। यदि आपके पास भी कोई लेख, कहानी, किस्सा हो तो आप हमें भेज सकते हैं, पसंद आने पर लेख को आपके नाम के साथ Bhannaat.com पर पोस्ट किया जाएगा, अपने सुझाव आप Wordparking@Gmail.Com पर भेजें, साथ ही Twitter पर फॉलो करें।
धन्यवाद !

Previous
Next Post »